Tuesday, January 30, 2018

सपने में जीव जंतु देखने का अर्थ एवं फल

  1. यदि सपने में ऊठ, शेर या किसी जंगली जानवर की सवारी करे या उस से भयभीत हो तो समझे कि रोगी अभी किसी और रोग से भी ग्र्स्त हो सकता है। 
  2. अजगर देखना – शुभ 
  3. उल्लू देखना -दुखों का संकेत 
  4. उल्लू देखना- धन हानि होना 
  5. कबूतर देखना – प्रेमिका से मिलना 
  6. कबूतरों का झुंड – शुभ समाचार मिले 
  7. सफेद कबूतर देखना- शत्रु से मित्रता होना 
  8. कछुआ देखना – शुभ समाचार मिले, धन आशा से अधिक मिलना 
  9. कुत्ता देखना- पुराने मित्र से मिलन 
  10. कोयल देखना / सुनना – शुभ समाचार 
  11. कौआ देखना- किसी की मृत्यु का समाचार मिलना 
  12. काली बिल्ली देखना – शुभ समाचार, लाभ हो 
  13. कीडा देखना – शक्ति का प्रतीक
  14. पीली बिल्ली देखना – अशुभ समाचार 
  15. सफेद बिल्ली देखना- धन की हानि 
  16. बिल्लियों को लड़ते देखना- मित्र से झगड़ा 
  17. खटमल देखना – जीवन में संघर्ष 
  18. खटमल मारना – कठिनाई से छुटकारा 
  19. खरगोश देखना – औरत से बेवफाई 
  20. गधा देखना -प्यार मिले 
  21. गधा लदा हुआ देखना – व्यापार में लाभ हो 
  22. गधे की चीख सुनना – दुख हो 
  23. गधे की सवारी करना – शुभ समाचार मिले 
  24. गाय देखना – धन लाभ हो 
  25. गाय या बैल पीले रंग की देखना – महामारी आने के लक्षण 
  26. गाय का बछड़ा देखना- कोई अच्छी घटना होना
  27. गिरगिट देखना – झगडे में फसने का संकेत 
  28. गिलहरी देखना – बहुत शुभ 
  29. गीदढ़ देखना – शत्रु से भय मिले 
  30. घोड़ा देखना- संकट दूर होना 
  31. घोड़ा सजा हुआ देखना – कार्य में हानि 
  32. घोड़ा काला देखना -मान सम्मान बढेगा 
  33. घोड़ा या हाथी पर चड़ना – उन्नत्ति होन , व्यापार मे उन्नति होना 
  34. चमगादर उड़ता देखना – लम्बी यात्रा हो 
  35. चमगादर लटका देखना – अशुभ संकेत 
  36. चम्मच देखना – नजदीकी व्यक्ति धोखा दे 
  37. चिडिया देखना – मेहमान आने का संकेत 
  38. चिडिय़ा को रोते देखता- धन-संपत्ति नष्ट होना 
  39. चींटी देखना – धन लाभ हो 
  40. चींटिया बहुत अधिक देखना – परेशानी आये 
  41. चील देखना – बदनामी होना, शत्रुओं से हानि 
  42. चींटी मारना – तुंरत सफलता मिले 
  43. चूहा देखना -औरत से धोखा 
  44. चूहा फंसा देखना – शरीर को कष्ट 
  45. चूहा चूहे दानी से निकलते देखना – कष्ट से मुक्ति 
  46. चूहा मरा देखना – धन लाभ 
  47. चूहा मारना – धन हानि 
  48. छिपकली देखना – दुश्मन से कष्ट 
  49. जुगनू देखना- बुरे समय की शुरुआत 
  50. टिड्डी दल देखना- व्यापार में हानि 
  51. तितली देखना – विवाह हो या प्रेमिका मिले 
  52. तितली पकड़ना – नई संतान हो 
  53. तितली उड़ कर दूर जाना – दांपत्य जीवन में क्लेश हो 
  54. तोता देखना – ख़ुशी मिले 







  • नीलकंठ देख्ना – मान सम्मान बढे , विवाह हो 
  • नेवला देखना – संकट समाप्त हो , स्वर्णाभूषण मिले , शत्रुभय से मुक्ति 
  • नीलगाय देखना- भौतिक सुखों की प्राप्ति 
  • बकरी चुराना या खोना – लडाई हो
  • बतक पानी में देखना – शुभ समाचार मिले 
  • बतख ज़मीन पर देखना -धन हानि हो 
  • बन्दर देखना – धन वृद्धि हो , अच्छा भोजन मिले 
  • बगुला देखना – सफ़ेद देखने पर लाभ , काला देखने पर हानि हो 
  • बाज़ देखना – दुर्घटना में फँसना पढ़े 
  • बाज़ द्वारा झपट्टा मारना – पहाड़ से गिरने के लक्षण 
  • बाघ देखना – शत्रु पर विजय हो 
  • बछिया देखना – शुभ समाचार मिले
  • बारहसिंघा देखना – दूर स्थान की यात्रा हो 
  • भेडिय़ा देखना- दुश्मन से भय 
  • मगरमछ देखना – शुभ समाचार मिले 
  • मुर्गा देखना -विदेश व्यापार बढे 
  • मुर्गी देखना -गृहस्थी का सुख मिले 
  • मधुमक्खी देखना- मित्रों से प्रेम बढऩा 
  • मैना देखना- उत्तम स्वास्थ्य की प्राप्ति 
  • लंगूर देखना -शुभ समाचार मिले 
  • लक्कड़ बाघ देखना – नयी मुसीबतें आने का संकेत 
  • लोमड़ी देखना- किसी घनिष्ट व्यक्ति से धोखा मिलना 
  • शेरों का जोड़ा देखना- दांपत्य जीवन में अनुकूलता 
  • शार्क मछली देखना – विदेश यात्रा हो 
  • सारस देखना – धन वृद्धि हो 
  • सांप मारना या पकड़ना – दुश्मन पर विजय हो , अचानक धन मिले 
  • सांप से डर जाना -नजदीकी मित्र से विश्वासघात मिले 
  • सांप से बातें करना -शत्रु से लाभ मिले 
  • सांप दिखाई देना- धन लाभ 
  •  सफेद सांप काटना- धन प्राप्ति 
  • सांप नेवले की लडाई देखना – कोर्ट कचेहरी जाना पड़े 
  • सांप के दांत देखना -नजदीकी रिश्तेदार हानि पहुंचाएंगे 
  • सांप छत्त से गिरना – घर में बीमारी आये तथा कोर्ट कचहरी में हानि हो 
  • सांप का मांस देखना या खाना – अपार धन आये परन्तु घर में धन रुके नहीं 
  • रोता हुआ सियार देखना- दुर्घटना की आशंका 
  • सूअर देखना – बुरे कामों में फँसना पड़े , बुरे लोगों से दोस्ती हो तथा मानहानि हो 
  •  खच्चर दिखाई देना- धन संबंधी समस्या 

  • No comments:

    Post a Comment